Header Ads Widget

Ticker

6/recent/ticker-posts

Domain Name क्या है ?Domain Name kaise kharide in Hindi 2021

 Domain Name क्या है ?Domain Name kaise kharide in Hindi 2021


Domain Name क्या है या Domain name kya hota hai : यदि आप एक ब्लॉग या वेबसाइट बनाने की सोच रहे हैं, तो सबसे पहले आपको डोमेन के बारे में जानना ज़रूरी है। जिस तरह हमारा नाम होता है, उसी तरह इंटरनेट की दुनिया में सभी वेबसाइटों का Domain Name (डोमेन नाम ) होता है।


Domain Name क्या है ?


एक डोमेन नाम किसी भी वेबसाइट का एक पहचान या पता होता है। जो किसी भी वेबसाइट पर जाने के लिए ब्राउज़र सर्च बार में टाइप किया जाता है।

अगर आपकी वेबसाइट एक घर है, तो आपका डोमेन नाम उसका पता होता है। यह एक इंटरनेट प्रोटोकॉल संसाधन का प्रतिनिधित्व करता है।

वैश्विक इंटरनेट नेटवर्क को एक दूसरे से जोडने के लिए केबलों का उपयोग किया जाता है। इनका एक दूसरे से जुड़े कंप्यूटरों का एक विशाल नेटवर्क है। इस नेटवर्क का हर एक कंप्यूटर अन्य कंप्यूटरों के साथ संचार कर सकता है।

हर एक कंप्यूटर की पहचान करने के लिए एक आईपी एड्रेस दिया जाता है। यह संख्याओं की एक समूह होता है जो इंटरनेट पर किसी विशेष कंप्यूटर की पहचान करती है।

एक विशिष्ट प्रोटोकॉल (आईपी) पता इस तरह दिखता है – 103.23.345.0

इन आईपी एड्रेस को याद रखना काफी मुश्किल है। सोचिये अगर आपको अपनी पसंदीदा किसी वेबसाइटों पर जाने के लिए ऐसे नंबरों को याद करना पड़े, तो कितना मुश्किल होगा। इस समस्या को दूर करने के लिए ही डोमेन नाम (Domain Name) का आविष्कार किया गया।

अब आपको किसी भी वेबसाइट पर जाने के लिए आपको लंबी संख्याओं की स्ट्रिंग याद करने की ज़रूरत नहीं है। अब सीधे आप सर्च बार में एक डोमेन नाम टाइप करके उस पर जा सकते हैं। उदाहरण के लिए, Techncr.com

इसे भी पढ़ें – SEO क्या है ? (What is SEO in Hindi 2021)

डोमेन नाम कैसे काम करते हैं?

जब आप किसी भी वेब ब्राउज़र (Chrome) में एक Domain Name लिखकर Enter करते हैं, तो यह सबसे पहले सर्वर को एक अनुरोध भेजता है। जो डोमेन नाम सिस्टम (DNS) बनाता है।

उसके बाद सर्वर ,डोमेन से जुड़े नाम सर्वर की तलाश करता हैं और उन नाम सर्वरों को अनुरोध भेजता है।अगर आपकी वेबसाइट Hostgator पर होस्ट की गई है, तो उसके नाम सर्वर की जानकारी इस प्रकार होगी:

ns1.webhost.net
ns2.webhost.net

ये नाम सर्वर आपकी होस्टिंग कंपनी द्वारा दिए गए कंप्यूटर की हैं। आपकी होस्टिंग कंपनी आपके अनुरोध को उस कंप्यूटर पर भेजेगी जहां आपकी वेबसाइट रक्खी है। इन कम्प्यूटर्स को वेब सर्वर कहा जाता है। उसके बाद यह इस डेटा को वापस ब्राउज़र में भेजता है।

डोमेन नाम के प्रकार

डोमेन कितने प्रकार के होते हैं?
शीर्ष-स्तरीय डोमेन (TLD) डोमेन नाम के अंतिम भाग को बताता है। यहाँ पूर्वनिर्धारित एक सीमित सूची है जिसमें निम्न शामिल हैं:

.com – व्यावसायिक (सबसे ज्यादा प्रचलित TLD)
.org – संगठन (गैर-लाभकारी)
.gov – सरकारी एजेंसियां
.edu – शैक्षणिक संस्थान
.net – नेटवर्क संगठन
.info -सूचना संबन्धित

टीएलडी (TLD) को 2 श्रेणियों में विभाजित किया गया है:

  • सामान्य शीर्ष-स्तरीय डोमेन (gTLDs)
  • देश-कोड शीर्ष-स्तरीय डोमेन (ccTLDs)

जेनेरिक शीर्ष-स्तरीय डोमेन (gTLDs) एक सामान्य शीर्ष-स्तरीय डोमेन नाम है। जो टॉप लेवल डोमेन वर्ग की पहचान करता है ,जिससे यह जुड़ा हुआ है। जैसे :

  • .com
  • .net
  • .org
  • .edu

देश कोड टॉप-लेवल डोमेन (ccTLDs) यह एक दो अक्षरों वाला डोमेन नाम हैं। जो किसी देश, भौगोलिक स्थान पहचाने जाने वाले आश्रित क्षेत्र के लिए उपयोग किया जाता है। जैसे :

  • .in
  • .us
  • .uk
  • .fr
  • .ac

इसे भी पढ़ें – On-Page SEO क्या है और कैसे करें

एक अच्छे डोमेन नाम का चयन कैसे करें?

ऐसा नाम चुनें जो टाइप, याद और उच्चारण करने में आसान हो। अगर लोगों को याद करने या इसका उच्चारण करने में कठिनाई होती है, तो यह आपके घाटे का का हो सकता है।

एक ऐसा डोमेन नाम चुनें जिसे आप एक ब्रांड में बदला जा सके। आपको अपने डोमेन नाम में संख्याओं और हाइफ़न का उपयोग नहीं करना चाहिए। क्योंकि उन्हें याद रखना और उच्चारण करना मुश्किल होता है।

अपने डोमेन नाम को छोटा और सरल रखे। लंबे और कठिन डोमेन नाम गलत होने का एक बड़ा जोखिम होता हैं। ऐसे नामों से बचें जो ब्रांडों के साथ भ्रमित हो सकते हैं। अगर आप यह सोचते है कि आप किसी ब्रांड को पीछे कर देंगे, तो ऐसा बिलकुल नहीं है। आप पर मुकदमा भी चलाया जा सकता है !

अच्छे “.com” एक्सटेंशन का उपयोग करें।क्योकि यह दुनिया के बाहर सबसे अधिक मान्यता प्राप्त एक्सटेंशन है। यदि आप किसी देश के स्थानीय बाज़ार को टारगेट कर रहे हैं, तब ccTLD शायद आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो।

डोमेन नेम सिस्टम (DNS) क्या है ? – डोमेन नाम सिस्टम इन हिंदी

डोमेन नेम सिस्टम एक सिस्टम है जिसका उपयोग किसी कंप्यूटर के होस्ट नाम को इंटरनेट पर आईपी एड्रेस में बदलने के लिए किया जाता है। यदि किसी कंप्यूटर को वेब सर्वर abcd.com के साथ संचार करने की आवश्यकता है, तो आपके कंप्यूटर को वेब सर्वर abcd.com के आईपी पते की आवश्यकता है।

उदाहरण – www.abcd.com अनुवाद के बाद 206 .66.188.266 की तरह हो जाता है।

होस्ट नाम को वेब सर्वर के आईपी पते में बदलना ही DNS का काम होता है। इसे इंटरनेट का टेलीफोन बुक भी कहते है। क्योंकि यह किसी वेबसाइट के नाम को नंबर में बदल देती है।

Domain Name Kaise Register Kare ?

इस समय डोमेन नाम कोई भी बहुत आसानी से खरीद सकता है। कोई भी ब्लॉग या वेबसाइट बनाने के लिए सबसे पहले Domain Name की आवश्यकता होती है।

यहाँ आप देखंगे कि Domain Name Kaise Register Karate हैं ? एक डोमेन नाम रजिस्ट्रार करने के लिए अपनी पसंदीदा डोमेन प्रोवाइडर्स की साइट पर जाये जैसे – GoDaddy, Namecheap या Hostinger ।

GoDaddy, Namecheap जैसे साइट पर जाएँ और Find Your Perfect Domain सर्च बॉक्स में अपना पसंदीदा नाम डालकर एंटर दबाएं। जैसे HelpInBlog.com यदि ऐसे डोमेन नाम उपलब्ध होंगे तो पहले बार में खरीदने का विकल्प मिल जायेगा।

यदि वही डोमेन किसी अन्य व्यक्ति या व्यवसाय द्वारा पंजीकृत है तो आप दूसरा एक्सटेंशन या दूसरा नाम चुनकर आगे बढ़ सकते हैं।

यदि आपने सही नाम चुन लिया और यह सुनिश्चित कर लिया है कि यह खरीदने के लिए उपलब्ध है, तो अब आप देखंगे कि Domain Name Kaise Kharidate hain ?

इसे भी पढ़ें – Off Page SEO क्या है

Domain Name Kaise Kharide (How To Buy A Domain Name in Hindi )

GoDaddy नियमित रूप से प्रोमो कोड देता है, जिससे आप एक किफायती डोमेन प्राप्त कर सकते है। आपकी वेबसाइट बनाने के लिए आपको एक डोमेन में अधिकतम 100 उप डोमेन बनाने की क्षमता मिलती है।

बुनियादी गोपनीयता सुरक्षा में आपकी व्यक्तिगत जानकरी WHOIS पर दिखाई नहीं देगा। रीयल-टाइम डोमेन निगरानी और सुरक्षा उपकरण के साथ उत्कृष्ट ग्राहक सहायता भी मिलता है।

GoDaddy se Domain kaise kharide ?

यहाँ आप देखंगे कि Godaddy से डोमेन कैसे खरीदते है ?

  • Godaddy में अपना अकाउंट बनायें।
  • एक पसंदीदा डोमेन नाम चुने
  • Add to Cart पर क्लिक करें।
  • अपनी नवीनीकरण अवधि (1 से 10 वर्ष) चुने।
  • उसके बाद Continue to Cart पर क्लिक करें।
  • Full Domain Privacy & Protection पर टिकमार्क कर नीचे जाएँ।
  • यदि आप official जीमेल लेना चाहते है तो टिक मार्क करें या No Thanks चुने।
  • अब दाहिने तरफ ऊपर Continue to Cart पर क्लिक करें।
  • Purchase सेक्शन में जाकर अपना प्रोडक्ट देखें और Continue to Checkout पर क्लिक करें।
  • Billing Information भर कर Save करें ।
  • अब आप Payment सेक्शन में जाकर कोई भी एक विकल्प ( जैसे क्रेडिट कार्ड ,डेबिट कार्ड , नेटबैंकिंग , वॉलेट में से एक method ) का चयन कर।
  • यहाँ हम Wallets का चयन कर Save Payment Method पर क्लिक करेंगे।
  • अब नीचे जाएँ और दाहिनी तरफ Complete Purchase पर क्लिक करें।
  • इसके बाद Make Payment पर करें।
  • आपके खाते से पैसे जमा हो जायेगा और आपके Gmail में Confirmation सन्देश मिल जायेगा।

  • इस तरह आपने अपना डोमेन नाम खरीद लिया है।

    याद रखें: डोमेन नाम को हर साल रेनुअल करने के लिए आप मैन्युअल मेथड या ऑटो-बिल मेथड चुन सकते हैं।

    यदि आप ब्लॉगिंग में रूचि रखते है और आपका खुद का वेबसाइट या ब्लॉग नहीं है, तो ऊपर बताई प्रोसेस से Godaddy से अपना खुद का डोमेन नेम ख़रीदे। अपनी ब्लॉग या वेबसाइट बनाने का पहला कदम डोमेन नाम को खरीदना ही होता है।

    इसे भी पढ़ें – Blogging Se Paise Kaise Kamaye 2021 .

    उम्मीद है कि आपको डोमेन नेम क्या है, डोमेन नेम सिस्टम क्या है ,और Domain kaise kharide ? के बारे में अच्छे से समझ आ गया होगा। यदि आप Hosting के बारे में सोंच रहे है तो Hostinger से होस्टिंग ले सकते हैं, जो कम कीमत में होस्टिंग प्रदान करते है।

    अगर आपको यह पोस्ट Domain Kya Hota Hai In Hindi 2021 पसंद आयी हो तो इसे सोशल मीडिया और अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।

Post a Comment

0 Comments